Constituency-wise Result Finder : General Elections India
सबसे कम उम्र के 'भारत रत्‍न' बने सचिन, प्रो. राव इस सम्‍मान से नवाजे गए चौथे वैज्ञानिक
Publish Date :
02/05/2014

नई दिल्‍ली. क्रिकेट के भगवान सचिन तेंडुलकर और वैज्ञानिक प्रो. सीएनआर राव को आज राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भारत रत्‍न से सम्‍मानित किया। यहां राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में दोनों को सम्‍मानित किया गया। इस मौके पर सचिन अपने परिवार के साथ मौजूद थे।
 
भारत रत्‍न से सम्‍मानित होने वाले सचिन पहले खिलाड़ी और प्रो. राव चौथे वैज्ञानिक हैं। भारत रत्‍न से सम्‍मानित होने वाले सचिन सबसे कम उम्र के व्‍यक्ति हैं। इस समय उनकी उम्र करीब 40 साल है। इससे पहले जब राजीव गांधी के लिए इस सम्‍मान की घोषणा हुई थी, तब उनकी उम्र 47 साल की होती। गांधी को यह सम्‍मान मरणोपरांत दिया गया था।
 
सम्‍मान समोराह के बाद सचिन ने इस पुरस्‍कार को देश की उन माओं को समर्पित किया, जिनके बेटों ने देश सेवा के लिए अपनी जान दे दी। मीडिया से बातचीत में उन्‍होंने कहा कि भारत में जन्‍म लेना उनके लिए गर्व की बात है। साथ ही उन्‍होंने प्रो राव को भी भारत रत्‍न के लिए बधाई दी। उन्‍होंने कहा कि इससे देश के युवा वैज्ञानिकों को प्रोत्‍साहन मिलेगा।
 अधिकारियों के मुताबिक भारत रत्न के एक मेडल को बनाने में करीब 2 लाख रुपए का खर्च आता है। इसे बनाने में 5 से 6 महीने का वक्त लगता है,जबकि पॉलिशिंग और साफ सफाई की प्रक्रिया कम खर्चीली है।
 14 साल पुराने इस मेडल को 11 जनवरी को अलीपुर टकसाल को साफ-सफाई के लिए भेजा गया था, जिसे पॉलिश कर और रिबिन बदलकर 30 जनवरी को वापस गृह मंत्रालय को भेजा गया था।
भारत का सर्वोच्‍च नागरिक सम्मान भारत रत्न किसी भी नागरिक को उसके सेवा क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए दिया जाता है। इस सम्मान की शुरुआत 1954 में हुई थी। मेडल के साथ भारत के राष्ट्रपति के हस्ताक्षर युक्त सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

 
 
अन्य खबरें
 

Cricket Live!

SunStar online
 
 
 

Electline Leader

Electline सेवाएं

Voters's view for election



आपके विचार से अगले चुनाव मे आपकी लोक सभा क्षेत्र से कौन सी पार्टी जीतेगी?

कृपया अपनी लोक सभा चुने