Constituency-wise Result Finder : General Elections India
नरेंद्र मोदी को हरा कर दिखायेगे: डा.रामगोपाल
Publish Date :
03/21/2014

 भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को घेरने के लिए समाजवादी पार्टी पूरी तरह से सजग हो चुकी है इसी कारण समाजवादी पार्टी ने अपने मुखिया मुलायम सिंह यादव को पहली बार पूर्वाचंल की आजमगढ से उतारने का फैसला कर लिया इसके बावजूद मुलायम मैनपुरी से भी चुनाव लडेगे। सपा की यह सब कवायत नरेंद्र मोदी के प्रभाव को पूरी तरह से खत्म करने की मंशा के तहत किया जा रहा है। समाजवादी पार्टी मे चाणक्य की भूमिका अदा कर रहे प्रवक्ता महासचिव डा.रामगोपाल यादव नरेंद्र मोदी की रणनीति पर पूरी तरह से निगाह रखे हुए है। नरेंद्र मोदी को रोकने की कवायत किस ढंग से कर रहे रामगोपाल उनसे कई मुददो पर सैफई स्थित आवास बात की जनादेश संवाददाता दिनेश शाक्य ने। पेश है डा.रामगोपाल यादव के बातचीत के खास अंश।  

जनादेश: सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी के साथ साथ पूर्वाचंल के आजमगढ से लडाने का फैसला लेने के पीछे आखिर क्या मंशा है ?
रामगोपाल: देखिये यह निर्णय पूर्वाचंल के  कार्यकर्त्ताओ नेताओ के लगातार अनुरोध के बाद लिया गया है पूरे पूर्वी उत्तर प्रदेश के चाहे वो एमएलए हो या फिर चाहे मिनिस्टरर्स हो या फिर पार्टी के पदाधिकारी या फिर आम कार्यकर्त्ता हो ये पिछले छह महीने से लगातार दबाव डाल रहे थे कि आजमगढ से मुलायम सिंह यादव चुनाव लडे अन्तोगत्वा पार्टी नेतत्व ने उन कार्यकर्त्ताओ नेताओ की बात को स्वीकार किया और आज यह फैसला लिया कि मुलायम सिंह जी मैनपुरी के साथ साथ आजमगढ से भी चुनाव लडेगे। आजमगढ से चुनाव लडने से पूरे पूर्वाचंल मे इस खबर के जाते ही उत्साह की व्यापक लहर है यह ऐसी लहर है जो भाजपा को थोथा कर देगी पूरे उत्तर प्रदेश मे। स्वंय मोदी को बनारस मे मुश्किल होगा अपनी सीट को जीत पाना समाजवादी पार्टी ज्यादा से ज्यादा सीटो पर चुनाव मे फतेह हासिल करेगी। उत्तर प्रदेश के ज्यादातर जिलो के कार्यकर्त्ता और नेता यह चाहते थे कि मुलायम सिंह यादव आजमगढ से भी चुनाव लडे और पार्टी के कार्यकर्त्ताओ की इच्छा का सम्मान करते हुए समाजवादी पार्टी ने आज यह निर्णय लिया है कि वो मैनपुरी के साथ साथ आजमगढ से भी चुनाव लडेगे। आजमगढ से चुनाव लडने से हम पूर्वाचंल की लगभग सारी सीटे जीतेगे चाहे वो आजमगढ हो,चाहे लालगंज हो,चाहे गाजीपुर हो,चाहे बलिया हो,सलेमपुर हो,देवरिया हो,बस्ती हो,सिदार्थनगर हो,चाहे जौनपुर हो,चाहे महाराजगंज हो,इन सारी सीटो पर समाजवादी पार्टी चुनाव जीतेगी और मोदी को बनारस मे हरा देगे जो हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे है आज देख लीजिऐगा मुलायम सिंह के आजमगढ से उम्मीदवार घोषित होते ही मोदी बनारस के साथ साथ गुजरात से भी चुनाव लडने के लिए तैयार हो गये है ऐसी खबरे मिलने लगी है मोदी दो जगह से चुनाव लडने का कदम इसलिए उठा रहे है कि कही ऐसा ना हो कि बनारस से चुनाव हार जाये। दो दिन मे यह साफ हो जायेगा कि मोदी कहा कहा से चुनाव लडेगे क्यो कि जो दांव यह लोग चल रहे थे कि मोदी को बनारस से लडाने से लहर पूर्वाचंल और बिहार तक चली जायेगी हकीकत मे मुलायम सिंह यादव के आजमगढ से लडने से लहर पूरे पूर्वाचंल मे जरूर चली जायेगी। 
जनादेश: आजमगढ से मुलायम सिंह यादव के लडने से समाजवादी पार्टी को क्या फायदा मिलेगा ?
रामगोपाल:  समाजवादी पार्टी पूरे पूर्वाचंल मे स्वीप करेगी भारतीय जनता पार्टी को एक भी सीट नही मिलेगी ढूढने से भी। 
जनादेश:  रैलियो और विकास के मामले मे समाजवादी पार्टी पहले ही मोदी को पछाड चुकी है ऐसे मे उनको डर इस बात का लग रहा है कि वो बनारस से हार जायेगे इसलिए गुजरात से भी लडने का मन बना रहे है ?
रामगोपाल:  देखिये,पहले मुरली मनोहर जोशी का कद बहुत बडा है वो केवल बनारस मे 17000 वोटो से ही जीते थे तो कोई आसन सीट तो है नही कि जाये और चुनाव जीत करके चले आये कोई वेस वोट भी नही है इसलिए उन्हे सुरिक्षत सीट तो ढूढनी ही होगी और हम लोग कोशिश यह करेगे कि प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश से पराजित होकर जाये कि उत्तर प्रदेश मे जो हमला करने की इनकी कोशिश है आधी तो उनकी उसी दिन फेल हो गई कि जब उनको कही उम्मीदवार नही मिले आप देख रहे आसपास जो भाजपा का उम्मीदवार हो कोई बीएसपी आया है तो कोई और किसी दल से,कोई किसी पार्टी से नही आया है। सब ऐसे ही है करीब करीब 50 प्रत्याशी। जो प्रत्याशी घोषित किये गये है उनके क्षेत्रो मे विरोध इस कदर शुरू हो गया है कि काले झंडे दिखाये जाने लगे है। पार्टी दफतरो मे मारपीट शुरू हो गई है । देवरिया से गाजियाबाद तक बस्ती से लेकर गाजियाबाद तक हंगामा ही मचा हुआ भाजपा के प्रत्याशी घोषित करने मे,यह चल रहा है मीडिया की ही बदौलत भाजपा चुनाव प्रचार मे दिख रही है वर्ना कही भी नजर नही आती भाजपा। 
जनादेश:  भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के खिलाफ बनारस से वैसे तो समाजवादी पार्टी ने पहले ही अपना प्रत्याशी उतार रखा है फिर भी किसी साझा उम्मीदवार के उतारने की मंशा है ऐसी खबरे कही जा रही है ?
रामगोपाल:  नही,समाजवादी पार्टी के वहा से उम्मीदवार है कैलाश चौरसिया,जो उत्तर प्रदेश सरकार मे राज्यमंत्री है और समाजवादी पार्टी स्वंय अपने बल पर अपने उम्मीदवार के जरिये ही नरेंद्र मोदी को हराने की स्थिति मे है इसलिए किसी साझा उम्मीदवार को उतारने का सवाल ही पैदा नही होता है अगर कोई दल हमारे उम्मीदवार का समर्थन करता है तो समाजवादी पार्टी इस पर विचार करेगी। 
जनादेश:  समाजवादी पार्टी नरेंद्र  मोदी को घेरने के लिए किस तरह की कोशिशे और कवायत कर रही है ?
रामगोपाल: देखिये हम घेरने की कोशिश नही करते है हम जनता के सर्मथन के जरिये हराने की कोशिश करते है हमने मुलायम सिंह यादव को आजमगढ से भी खडा किया है उसका परिणाम पूरे पूर्वी उत्तर प्रदेश मे देखने को मिलेगा वो स्वंय ही कार्यकर्त्ताओ का उत्साह कार्यकर्त्ताओ का सर्मथन मोदी को अपने आप घेर देगा और वो कही बनारस से बाहर निकलने की स्थिति मे नही होगे जब चुनाव शुरू हो जायेगा। 
 
जनादेश इलेक्टलाइन  कि  साझापहल 
 
 
अन्य खबरें
 

Cricket Live!

SunStar online
 
 
 

Electline Leader

Electline सेवाएं

Voters's view for election



आपके विचार से अगले चुनाव मे आपकी लोक सभा क्षेत्र से कौन सी पार्टी जीतेगी?

कृपया अपनी लोक सभा चुने