Constituency-wise Result Finder : General Elections India
आप-कांग्रेस में टकरार, गिर सकती है केजरीवाल की सरकार
Publish Date :
02/06/2014

नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी की सरकार जब से बनी है एक के बाद एक नया विवाद उनके गले ही फांस बनता जा रहा है। जनता से मन लुभावने वादें कर अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में अपनी सरकार तो बना ली, लेकिन अब उनके वहीं वादें उनकी सरकार गिराने का कारण बनती जा रही है। आम जनता को राहत देने वाले कदमों के दावों-वादों के बीच दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार अब नए बवाल की ओर बढ़ती दिख रही है। आम आदमी पार्टी की बैसाखी बनी कांग्रेस अब उसे आंख दिखाने लगी है। अब तक सिर्फ इशारों-इशारों में अरविंद केजरीवाल को धमकी देने वाली कांग्रेस ने अब खुलकर हमला बोलना शुरु कर दिया है। जनलोकपाल बिल पर आप की सहयोगी पार्टी कांग्रेस ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि जिस तरह कैबिनेट ने जन लोकपाल बि‌ल पास कर दिया, वह गैरकानूनी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरविंदर सिंह ने कहा कि कांग्रेस विधायक दल ने फैसला किया है कि कैबिनेट से पास बिल असंवैधानिक है। अरविंदर लवली ने कहा कि हम भ्रष्टाचार पर रोक लगाने वाले लोकपाल के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन जिस तरह से बिल को कैबिनेट से स्वीकृति दिलाई गई है, वह तरीका गैरकानूनी है। हम उसके खिलाफ है। कांग्रेस का कहना है कि जनलोकपाल के मुद्दे पर उन्हें समर्थन देना तो दूर वो इसे विधानसभा में पेश भी नहीं होने देंगे। कांग्रेस ने साफ किया है कि उनके समर्थन का मतलब यह कतई नहीं है कि वो असंवैधानिक काम करेंगे। कांग्रेस ने धमकी दी है कि अगर यह बिल पेश हुआ तो वो विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे। उन्होंने आम आदमी पार्टी को धमकी भरे स्वर में कहा कि अगर कांग्रेस चाहे तो सरकार आधे घंटे में गिरा सकती है, लेकिन ऐसा नहीं करेगी। क्योंकि केजरीवाल जानबूझकर इस समर्थन वापसी के लिए उकसाने वाले कार्य कर रहे हैं। गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के लिए सिर्फ कांग्रेस ही मुश्किलें खड़ी नहीं कर रहे हैं, बल्कि उनके खुद के बागी विधायक विनोद कुमार बिन्नी भी उसके राह में रोड़े अटका रहे हैं। बिन्नी ने आम आदमी पार्टी से समर्थन वापसी का ऐलान कर दिया है।
 

 
 
अन्य खबरें
 

Cricket Live!

SunStar online
 
 
 

Electline Leader

Electline सेवाएं

Voters's view for election



आपके विचार से अगले चुनाव मे आपकी लोक सभा क्षेत्र से कौन सी पार्टी जीतेगी?

कृपया अपनी लोक सभा चुने