Constituency-wise Result Finder : General Elections India
बैंकों हड़ताल का दूसरा दिन, हाईवे पर एटीएम मशीनों में मिल सकते हैं पैसे
Publish Date :
02/11/2014

नई दिल्ली। बैंकिंग क्षेत्र में सुधार के विरोध और बेसिक वेतन में 10 फीसदी वृद्धि की मांग को लेकर हड़ताल पर गये बैंकों के कर्मचारियों ने देश की अर्थव्यवस्था पर ब्रेक लगा दिया है। साथ ही आम आदमी भी परेशान है। शहरों के अंदर एटीएम मशीनें लगभग खाली हो चुकी हैं। अगर आपको पैसे की बहुत जरूरत है, तो एक बार शहर के हाईवे पर ट्राई कर सकते हैं, शायद वहां पैसा मिल जाये, नहीं तो कल तक बैंक खुलने का इंतजार कीजिये। देश भर की बैंकिंग सेवा ठप्प हो गई है। सरकारी बैंकों के पांच कर्मचारी संघों तथा चार अधिकारी संघों के प्रतिनिधि संगठन युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने कहा कि 27 सरकारी, 12 निजी, आठ विदेशी तथा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के 10 लाख से अधिक कर्मचारी तथा अधिकारी सोमवार को दो दिनों की हड़ताल पर चले गए। एटीएम हालांकि चालू रहे, लेकिन देश भर में बैंकों में नकदी निकासी, जमा और चेक क्लियरेंस प्रक्रिया आंशिक तौर पर बाधित रही। ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉई एसोसिएशन के महासचिव सी.एच. वेंकटचलम ने चेन्नई से आईएएनएस से कहा, "पूरे देश में 7,40,000 करोड़ रुपये के करीब 10 करोड़ चेकों का क्लियरेंस नहीं हो पाया। चेन्नई क्लियरिंग हाउस में करीब 64 हजार करोड़ रुपये मूल्य के करीब 90 लाख चेक को क्लियर नहीं किया जा सका।" उन्होंने कहा, "हड़ताल के मंगलवार को भी जारी रहने पर उपकरणों का मूल्य और उसकी संख्या और बढ़ सकती है।" हड़ताल के मंगलवार को भी जारी रहने पर एटीएम से नकदी खत्म हो जाने की आशंका है। यूएफबीयू ने इससे पहले 20-21 जनवरी को हड़ताल घोषित की थी, लेकिन इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) ने पांच फीसदी वेतन वृद्धि की पुरानी पेशकश को बढ़ाकर 9.5 फीसदी कर दिया और इसमें और वृद्धि करने का वादा किया। इसके बाद हड़ताल को स्थगित कर दिया गया था। 27 जनवरी को हुई वार्ता में आईबीए ने हालांकि इसे 9.5 फीसदी से मामूली बढ़ाकर 10 फीसदी ही किया, जिसे यूएफबीयू ने खारिज कर दिया। यूएफबीयू 30 फीसदी वेतन वृद्धि की मांग कर रहा है, क्योंकि नवंबर 2012 के बाद वेतन वृद्धि नहीं हुई है।
 

 
 
अन्य खबरें
 

Cricket Live!

SunStar online
 
 
 

Electline Leader

Electline सेवाएं

Voters's view for election



आपके विचार से अगले चुनाव मे आपकी लोक सभा क्षेत्र से कौन सी पार्टी जीतेगी?

कृपया अपनी लोक सभा चुने